Home राजनीति कोरोना और बाढ़ के दोहरे संकट के बीच चुनाव नहीं है मानवोचित...

कोरोना और बाढ़ के दोहरे संकट के बीच चुनाव नहीं है मानवोचित – केशव

128
धरना पर बैठे आप जिलाध्यक्ष

समस्तीपुर। यह प्रदेश का दुर्भाग्य है कि एक तरफ पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है, केवल बिहार में डेढ़ सौ से अधिक जिंदगियां इस कोविड 19 नामक वायरस ने लील लिए है, राज्य भर में 20 हजार से अधिक लोग संक्रमित है और सरकार सत्ता लोभ में चुनावी बिसात बिछाने में ब्यस्त है। उक्त बातें आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष संतोष कुमार प्रसाद उर्फ केशव प्रसाद ने कहीं। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट अभी अपनी विनाश लीला दिखा ही रहा है ऊपर से बाढ़ का संकट भी कई जिलों को अपने चपेट में ले चुका है। ऐसे में चुनाव कराना कतई व्यावहारिक नहीं है। बताते चलें कि आप ने गुरुवार को सरकार की सत्ता लोलुपता और चुनाव की तैयारी से क्षुब्ध हो कर एक दिवसीय धरना का आयोजन किया। जिसमे उपाध्यक्ष अधिवक्ता आलोक कुमार सहित सभी कार्यकर्ताओं ने अपने अपने आवास पर धरना दिया। श्री प्रसाद ने पत्र लिख कर चुनाव आयोग को बिहार के हालात से अवगत कराते हुए कहा है आम आदमी पार्टी पूरे बिहार में कोरोना और बाढ़ की विभीषिका को देखते हुए चुनाव आयोग से आग्रह पूर्वक माँग करती है कि बिहार विधानसभा चुनाव की तारीख तत्काल बढ़ाई जाए। साथ ही बिहार सरकार को भी आग्रह पूर्वक कहा है कि चुनाव के बदले कोरोना संकट से उबारने पर पूरा ध्यान केंद्रित करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here