एकेडमिक काउंसिल की बैठक संपन्न

122

डीआरपीसीएयू में बी टेक फुड टेक्नोलॉजी का चार वर्षीय डिग्री कोर्स हुआ शामिल,
समस्तीपुर। डॉ राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय विश्व विद्यालय में एकेडमिक काउंसिल की बैठक वर्चुअल मोड में हुई जिसकी अध्यक्षता विश्व विद्यालय के कुलपति डॉ रमेश चंद्र श्रीवास्तव ने की । विश्व विद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ एम एन झा इसके सदस्य सचिव थे। बैठक में लिये गये निर्णय के मुताबिक विश्व विद्यालय में 2021-22 से बी टेक फुड टेक्नोलॉजी का चार वर्षीय डिग्री कोर्स शुरू किया जायेगा। यह प्रोग्राम मल्टीइंस्टीट्यूशनल होगा जिसमें कालेज ऑफ बेसिक साइंस एंड ह्यूमनिटीज, कालेज ऑफ कम्यूनिटी साईंस तथा कालेज ऑफ एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग मिलकर सहयोग करेगा।
2. फार्म मशीनरी एंड पावर इंजीनियरिंग तथा प्रोसेसिंग एंड फूड इंजीनियरिंग में इंडस्ट्री तथा इन सर्विस कैंडिडेट के लिये एक सीट पीएचडी में होगा। इसके साथ ही अन्य सभी कोर्स जिसमें स्नातकोत्तर तथा पीएचडी के खुलेंगे उनमें एक सीट विदेशी छात्र, एक सीट इंडस्ट्री प्रायोजित तथा एक सीट इन सर्विस कैंडिडेट के लिये होगा। एवं 3. कोविड 19 महामारी के दौरान आफ लाईन एकेडमिक एक्टिवीटी की कुछ खामियां उजागर हुई हैं जिसे देखते हुए इस तरह की चुनौतियों से निपटने के लिये अब सभी एकेडमिक एक्टिवीटी आन लाईन तथा आफ लाईन मोड में सम्मिलित रूप से संचालित होंगी।
बैठक के बाद कुलपति डॉ श्रीवास्तव ने विश्व विद्यालय के सभी कर्मियों की सराहना की और कहा कि सभी लोगों के सम्मिलित प्रयास से विश्व विद्यालय इंडिया टूडे सर्वे में सर्वोच्च दस स्थान में जगह बना पाया है। रजिस्ट्रार डा एम एन झा ने सभी लोगों का धन्यवाद ज्ञापन किया। बाह्य विशेषज्ञ के रूप में बैठक में डा पी प्रकाश, पूर्व कुलपति एस आर एम विश्व विद्यालय दिल्ली तथा डा गोपाल कृष्ण कुलपति सीआई एफ ई मुंबई सम्मिलित हुये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here