शहादत दिवस पर माले कार्यकर्ताओं ने लिया भ्रष्टाचार के विरुद्ध आंदोलन का संकल्प 

119
शहादत दिवस पर मौजूद कार्यकर्ता

समस्तीपुर। भाकपा माले के संस्थापक व प्रथम महासचिव चारू मजूमदार का 48वां शहादत दिवस प्रखंड के मोरसंड समेत कई पंचायतों में संकल्प दिवस के रूप में मनाया गया। इस मौके पर भाकपा-माले प्रखंड सचिव अमित कुमार की अध्यक्षता में प्रखंड के कई पंचायतों एवं गांवों के ब्रांच स्तर पर झंडोत्तोलन के साथ संकल्प सभाएं आयोजित की गई। माले कार्यकर्ताओं ने आयोजित कार्यक्रमों में प्रखंड में बढ़ रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करने व पार्टी को आगे बढ़ाते हुए सुदृढ़ व मजबूत बनाने का सामूहिक संकल्प लिया तथा उनके चित्र पर माल्यार्पण कर दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गयी। संकल्प सभा को संबोधित करते हुए माले सचिव अमित कुमार ने कहा कि चारू मजूमदार के अधूरे सपनों को पूरा करना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी । उन्होंने कहा कि चारू मजूमदार ने वर्ष 1969 में भाकपा-माले जैसी क्रांतिकारी वामपंथी पार्टी का निर्माण किया था, जो आज की स्थिति में सामाजिक, राजनीतिक एवं अन्याय के विरुद्ध गरीब, शोषित, दलित, पिछड़े, अल्पसंख्यक समेत अन्य मेहनतकश जनता के संघर्ष को पूरे देश में एक प्रतीक बनकर आगे की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि अन्याय के खिलाफ न्याय के लिए संघर्ष आज प्रमुख मुद्दा बना है। उन्होंने कहा कि प्रखंड में जुलाई माह का राशन अब तक वितरण नहीं किया गया है, यदि शीघ्र वितरण नहीं किया गया तो भाकपा-माले आंदोलन को बाध्य होगी । राशन वितरण के बारे में प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि पूरे बिहार में डीलर संघ की हड़ताल चल रही है। इसलिए राशन वितरण में विलम्ब हो रही है। हड़ताल समाप्त होते ही राशन वितरण शुरू हो जायेगी। शहादत दिवस के मौके पर प्रखंड कमिटी सदस्य महेश सिंह, रविन्द्र सिंह, दिनेश राय, अखिलेश सिंह, जितेन्द्र राय, सुरेश कुमार समेत राजाराम सिंह , बथहु महतो, रामविलास पासवान, उमेश सिंह, रामचंद्र सिंह इत्यादि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here