डीएम ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण, दिए कई जरूरी निर्देश

208

समस्तीपुर। शनिवार को जिला पदाधिकारी ने कल्याणपुर प्रखंड के नामापुर पंचायत के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में प्रशासनिक व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के पश्चात बाढ़ प्रभावित पंचायतों के जन प्रतिनिधियों के साथ बैठक मनरेगा कार्यालय कल्याणपुर में आयोजित की गई। जिला पदाधिकारी द्वारा सभी बाढ़ प्रभावित पंचायतों में प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को प्रभारी पदाधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया। जिसमे एमओ को कलौंजर, प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी को नामापुर, प्रखंड कृषि पदाधिकारी को सोरमार, कनीय अभियंता को खरसंड पश्चिम, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को तीरा, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को खरसंद पूर्वी, एवं प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी को बरहेत्ता का प्रभारी बनाया गया। जिला पदाधिकारी ने सभी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में प्रति 50 लोग एक कम्युनिटी किचेन आरंभ करने का निदेश संबंधित प्रभारी पदाधिकारी को दिया, और बांध क्षेत्र में प्रखंड विकास पदाधिकारी को कम्युनिटी किचेन चलाने का निदेश दिया। साथ ही नावों का निबंधन/परिचालन/निशुल्क सेवा- निबंधन हेतु अनुमंडल पदाधिकारी को निदेश दिया। उन्होंने कहा कि नावों की सेवा निशुल्क है। नाविकों द्वारा निशुल्क सेवा नहीं देने की शिकायत आने पर उनपर प्राथमिकी दर्ज कराया जाएगा। सभी प्रभावित क्षेत्र में प्लास्टिक का वितरण सुनिश्चित कराने का निदेश दिया गया। तत्काल प्रभाव से कलौंजार, नामापुर और तीरा को 500 प्लास्टिक शीट देने का निर्देश दिया गया। पीएचईडी द्वारा बाढ़ प्रभावित पंचायतों के बांध क्षेत्रों में चापाकाल, शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निदेश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया।

पशु शरण स्थल- पर पशुओं को रखने, चारा एवं औषधि/टीका की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया।
स्वास्थ्य शिविर के संबंध में एमओआइसी को दैनिक रूप से प्रभावित क्षेत्र में शिविर आयोजित करने का निदेश दिया गया और साथ ही पर्याप्त मात्रा में हैलोजेन टैबलेट, ओ आर एस, आदि का वितरण सुनिश्चित करें। एसडीआरएफ गश्ती दल को प्रतिदिन प्रभावित क्षेत्रों में तैनात रहने का निदेश दिया गया जो किसी आकस्मिक सेवा में प्रखंड विकास पदाधिकारी के निदेश पर सहयोग करेंगे। मौके पर अपर समहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी एवं अन्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here