Home SAMASTIPUR जमीन विवाद सामाजिक सौहार्द एवं सद्भाव के शत्रु – रविता

जमीन विवाद सामाजिक सौहार्द एवं सद्भाव के शत्रु – रविता

125
Officials present during public hearing

लोक अदालत में वर्षों पुराने कई जटिल भूमि विवाद का हुआ निपटारा

समस्तीपुर। प्रखंड में चल रहे भू-विवाद के मामलों को सुलझाने के लिए पुलिस व अंचल प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। प्रखंड में कई वर्षों से चले आ रहे भूमि संबंधी विवाद को सुलझाने के लिए आज शनिवार को पूसा अंचलाधिकारी संतोष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वैनी ओपी थाना परिसर में लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस दौरान कई वर्षों से चले आ रहे भूमि संबंधी कई जटिल विवादों का निपटारा किया गया। इस अवसर पर अंचलाधिकारी संतोष कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि जमीन विवाद का तत्काल निपटारा तो बेहद जरूरी है। इससे न केवल समाज में शांति सद्भाव और परस्पर प्रेम का माहौल कायम रहेगा, बल्कि असामाजिक तत्वों पर भी स्वतः अंकुश लग जाएगा। वहीं प्रखंड प्रमुख रविता तिवारी ने जमीनी विवाद को सामाजिक सौहार्द और सद्भाव का शत्रु करार देते हुए कहा कि जमीन विवाद को काफी गंभीरता से लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब भी कोई जमीन का विवाद सामने आए उसे पहली प्राथमिकता के आधार पर निष्पादित करने की जरूरत है। इस अवसर पर भाकपा-माले प्रखंड सचिव अमित कुमार ने कहा कि भूमि संबंधी विवाद का समाधान सुलह-समझौते के माध्यम से कराया जा सकता है। कुछ मामले तो परिवार व संबंधियों के होते हैं जो बातचीत के माध्यम से ही हल कराये जा सकते हैं। लेकिन संबंधित पदाधिकारियों द्वारा संज्ञान न लेने के कारण कई मामले लंबित पड़े रहते हैं, जो बाद में सामाजिक और परवारिक तनाव का कारण बनते हैं। बैठक में वैनी ओपी थानाध्यक्ष नंद किशोर यादव , पूसा थाना एएसआई संजय कुमार, जिप सदस्य संजय त्रिवेदी, ठहरा मुखिया प्रतिनिधि जय प्रकाश मिश्र, मोरसंड मुखिया प्रतिनिधि मनोज राम, माले प्रखंड कमिटी सदस्य महेश सिंह, मो० असगर, बिगन शर्मा इत्यादि उपस्थित थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here